डॉ विकास दिव्यकीर्ति का जीवन परिचय । dr vikas divyakirti biography in hindi

डॉक्टर विकास दिव्यकीर्ति यह भारत के उन महान हस्तियों में गिने जाते हैं जिन्होंने भारत के उच्चतम पद को छोड़ कर के शिक्षण का कार्य किया | एक पूर्व IAS अधिकारी ,एक अध्यापक और एक अच्छे इंसान जो भारत समाज को शिक्षा देने का कार्य कर रहे है | आप Dr Vikas Divyakirti Biography In Hindi के लेख में डॉ विकास दिव्यकीर्ति से जुड़े महत्वपूर्ण बिंदु जैसे प्रारंभिक जीवन काल, शिक्षा , IAS व शिक्षक बनने का सफर , उपलब्धि , सम्मान , संपत्ति , पारिवारिक जीवन और उनसे जुड़े हुए महत्वपूर्ण प्रश्न देखने को मिलेंगे |


डॉ विकास दिव्यकीर्ति का प्रारंभिक जीवन { Early Life of Dr. Vikas Divyakirti }


डॉ विकास दिव्यकीर्ति का जन्म 26 दिसंबर दिन रविवार 1976 ईस्वी मे भारत के हरियाणा जिले में हुआ था | इनके माता और पिता अध्यापन का कार्य करते रहें है | इसी कारणबस विकास दिव्यकीर्ति को भी अध्यापन से बहुत ही लगाव रहा |


यह बचपन से ही देश और देश के प्रति अपना सम्मान व्यक्त करते आए हैं | अतः इन्होंने अपने शिक्षण पर हमेशा ध्यान दिया और विभिन्न प्रकार की शिक्षाओं पारंगत होने के बाद इन्होंने अपने उद्देश्य की ओर आगे बढ़े |


इनके माता-पिता एक अध्यापक व प्रोफेसर रहे हैं फलस्वरूप डॉ विकास दिव्यकीर्ति भी एक अध्यापक ही बनना चाहते थे | अतः उन्होंने विभिन्न प्रकार की डिग्रियों को अपनी कुशलता के बल पर प्राप्त किया |


dr vikas divyakirti biography in hindi


इन्होंने भारत के एक उच्चतम पद जैसे IAS की परीक्षा पास की | एक साल तक अपने ही कार्य में निष्ठा पूर्वक कार्यरत रहे | इनका पारिवारिक जीवन हमेशा अध्यापन से जुड़ा रहा है | परिणाम स्वरूप डॉ विकास दिव्यकीर्ति भी एक अध्यापक के रूप में अपना जीवन बिताना चाहते थे | कारणवश इन्होंने अपनी IAS की पदवी को छोड़कर एक अध्यापन का कार्य शुरू कर दिया |


डॉ विकास दिव्यकीर्ति वर्तमान काल में भारत के IAS की कोचिंग बच्चों को प्रदान करते हैं | भारत के विभिन्न क्षेत्रों में इनकी अध्यापन की व्याख्या सभी लोग करते हैं | आप जिस भी छात्र या छात्रा से इनकी व्याख्या सुनना चाहेंगे तो वह आपको एक सम्मान पूर्वक इनका नाम लेते हुए व्याख्या जरूर बताएगा |


नाम विकास दिव्यकीर्ति
पूरा नाम डॉक्टर विकास दिव्यकीर्ति
जन्म 26 दिसंबर दिन रविवार 1976 ईस्वी
जन्म स्थान हरियाणा पंजाब
शिक्षा स्नातक ,परास्नातक ,phd,low ,mfill,हिन्दी व अँग्रेजी का विशेष अध्यन, मास कम्युनिकेशन और सोशलॉजी
स्थिति विवाहित
पत्नी तरुणा वर्मा

डॉ विकास दिव्यकीर्ति की शिक्षा ( Dr. Vikas Divyakirti’s Education )| Dr Vikas Divyakirti Biography In Hindi

डॉ विकास दिव्यकीर्ति ने जीवन भर आधायन के कार्य को निष्ठा पूर्वक किया है | उन्होंने अपने जीवन में केवल शिक्षा ही ग्रहण की है शायद इसी का परिणाम उन्हें मिल रहा है | जो आज वह एक बेहतर अध्यापक के रूप में उभर कर सामने आए हैं |


उन्होंने अपनी प्रारंभिक स्कूल की पढ़ाई कक्षा 12 तक दिल्ली के ही एक छोटे से स्कूल “सरस्वती शिशु मंदिर” से की | डॉ विकास दिव्यकीर्ति एक बहुत ही होशियार और समझदार बच्चे रहे हैं क्योंकि ऐसा उनके अध्यापक का कहना है इन्होंने कभी भी अपने माता पिता को या अपने अध्यापक को परेशान करने का प्रयास नहीं किया | अपने स्कूली दिनों में यह एक अच्छे छात्र के रूप में अपनी पहचान छोड़ते आए हैं |


आगे की पढ़ाई करने के लिए डॉ विकास दिव्यकीर्ति दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिला लिया | वहां से सफलतापूर्वक इतिहास विषय में स्नातक को पूरा किया तत्पश्चात इनकी पढ़ाई में रुचि बढ़ती ही जा रही थी | अत: इन्होंने हिंदी विषय में एमफिल किया | उसके पश्चात हिंदी ही विषय से डॉक्टर विकास दिव्यकीर्ति ने पीएचडी ( पीएचडी भारत की वह सम्मानजनक अवधी है जिसमें कोई छात्र या छात्रा स्नातक परास्नातक फिर उसके पश्चात पीएचडी को पूरा करता है इस अवधि को प्राप्त करने के लिए मिनिमम 8 साल का समय लग जाता है ) को पूरा किया |


डॉ विकास दिव्यकीर्ति इसके आगे भी पढ़ाई करते रहें | उन्होंने मास कम्युनिकेशन और सोशलॉजी जैसी मास्टर डिग्री को प्राप्त किया | उनका भाषाओं के प्रति लगाओ बहुत था अत: वह हिंदी और अंग्रेजी में ने डिग्री प्राप्त करने का भरकम प्रयास किया | उसके पश्चात डॉ विकास दिव्यकीर्ति दिल्ली विश्वविद्यालय से पीजी को करने लगे और वहा से पीजी की डिग्री भी हासिल की |


इनके शांत स्वभाव की वजह से यह अपने शिक्षण जैसे कार्य में लगातार प्रयास करते रहे | वर्तमान समय में भी प्रयास कर रहे हैं यह भारत के एक बेहतरीन कोचिंग संस्था को चलाते हैं जिसमें विभिन्न प्रकार की upsc छात्रों को IAS जैसी बड़ी परीक्षा को पास करने के लिए तैयारी कारवाई हैं | इनका स्वभाव उनके माता-पिता से मिला क्योंकि वह भी एक अध्यापक हैं | विकास दिव्यकीर्ति ने अपना सारा जीवन शिक्षण में लगा दिया ।


डॉ विकास दिव्यकीर्ति का आईएस व शिक्षक बनने का सफर ( Dr. Vikas Divyakirti’s journey to become an IS and teacher )


उन्होंने विभिन्न विषयों में पढ़ाई को समाप्त किया | उसके पश्चात यह हमेशा से अध्यापक बनना चाहते थे | विकास दिव्यकीर्ति ने दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रोफेसर बनने की इच्छा से अर्जी को दाखिल किया लेकिन उनकी इस अर्जी को नकारा गया और उन्हें असफलता प्राप्त हुई |


डॉ विकास दिव्यकीर्ति एक बहुत ही जुझारू किस्म के इंसान हैं | उन्होंने भारत की सर्वोच्च परीक्षा को पास करने का फैसला किया | तत्पश्चात उन्होंने तैयारी को शुरू कर दिया और कुछ ही समय में भारत की सर्वोच्च परीक्षा UPSC से IAS को पास कर लिया | लेकिन वह अपने जीवन में केवल अध्यापन का कार्य करना ही चाहते थे अतः इन्होंने IAS जैसी सर्वोच्च पद को छोड़कर के अध्यापन का कार्य शुरू किया |


शपथ ग्रहण समारोह में जब यह भारत के सर्वोच्च IAS पद कोई शपथ ले रहे थे | तब इन्होंने केवल 1 साल ही अपने कार्यभार को संभालने की शपथ ग्रहण की | 1 साल पश्चात होने के बाद उन्होंने अपने पद को छोड़ दिया |


फिर से इन्होंने दिल्ली के विश्वविद्यालय में प्रोफेसर बनने की अर्जी डाली और इस बार इस सफल रहे हैं | इन्हें एक प्रोफेसर के रूप में चुना गया उन्होंने अपने अध्यापन का कार्य शुरू कर दिया |


यह 2019 में उस समय बहुत फेमस हो गए जब इनका एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया | उसके पश्चात विकास दिव्यकीर्ति ने एक बड़े प्लेटफार्म जैसे यूट्यूब पर अध्यापन का कार्य शुरू कर दिया इनकी एक कोचिंग भी है जिसमें यह पढ़ाने जाते हैं |


डॉ विकास दिव्यकीर्ति उपलब्धि, सम्मान व संपत्ति { Dr. Vikas Divyakirti Achievement, Honor and Wealth }| Dr Vikas Divyakirti Biography In Hindi


भारत में मिल रहा सम्मान भी डॉ विकास दिव्यकीर्ति को सार्थक सम्मान मान रहे हैं | वह कहते हैं कि वह अपने जीवन से किसी दूसरे का भला करना चाहते है | वह कार्य वह बखूबी कर रहे हैं तत्पश्चात इन्होंने IAS जैसे सर्वोच्च पद को छोड़ कर के अध्यापक का कार्य शुरू किया |


अपने जीवन काल में इन्होंने भारत के सर्वोच्च पद IAS जैसे पद को ग्रहण किया और अपने पद को निष्ठा पूर्वक निभाया यह भी इनके लिए एक उपलब्धि ही है ।


डॉक्टर विकास दिव्यकीर्ति के लगातार संघर्ष से इन्होंने शिक्षण में विभिन्न प्रकार की डिग्री को प्राप्त किया | वर्तमान समय में यह विभिन्न प्रकार की डिग्रियों में पारंगत हासिल करके बैठे हैं जो इनके लिए किसी सम्मान से कम नहीं |


छात्र-छात्राओं की नजर में डॉ विकास दिव्यकीर्ति का सम्मान हमेशा सर्वोच्च रहा है | छात्र और छाट्राए हमेशा डॉ विकास दिव्यकीर्ति को अपना एक मार्गदर्शक मानते आए हैं | उनके बताए हुए कदमों पर ही चल रहे हैं | यह भी उनके लिए एक बड़ी उपलब्धि ही है |


डॉ विकास दिव्यकीर्ति की संपत्ति भारत में मिल रहे प्यार से बहुत ज्यादा नहीं है | लेकिन उनकी कोचिंग और अध्यापन के कारण से उन्हें एक से 1.5 करोड़ रुपए साल प्राप्त हो जाते है | अतः इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि डॉ विकास दिव्यकीर्ति की संपत्ति कितनी होगी | इनकी विभिन्न स्रोतों से इनकम होती है | जैसे यूट्यूब चैनल , कोचिंग , विभिन्न विद्यालयों में प्रमोशन मुख्य इनकम के स्रोत हैं |


विकास दिव्यकीर्ति का पारिवारिक जीवन ( family life )| Dr Vikas Divyakirti Biography In Hindi


डॉ विकास दिव्यकीर्ति एक साधारण और शांत व्यक्ति हैं | स्वभाव से बहुत ही नरम है यह अपनी माता पिता से बहुत ही प्यार करते हैं | डॉ विकास दिव्यकीर्ति एक विवाहित व्यक्ति हैं और इनकी शादी एक अध्यापिका तरुणा वर्मा से 1998 में हो गई थी | इनकी पत्नी तरुणा वर्मा इनके साथ ही IAS कोचिंग की संस्थापक के रूप में कार्यरत हैं | इनका एक पुत्र भी है जिसका नाम सात्विक दिव्यकीर्ति है |


इनका पारिवारिक जीवन एक सरल साधारण बना रहा | इनके पारिवारिक जीवन में ज्यादा उतार-चढ़ाव देखने को नहीं मिले | यह एक हंसी खुशी भरपूर परिवार रहा | इनका ज्यादातर ध्यान अध्यापन और ध्यान करने में ही गुजर गया |


डॉ विकास दिव्यकीर्ति से जुड़े रोचक तथ्य { interesting fact }| Dr Vikas Divyakirti Biography In Hindi


यदि भारत में कोई IAS परीक्षा को पास कराने के लिए अच्छा अध्यापक हिन्दी मे है तो वह डॉक्टर विकास दिव्यकीर्ति ही है | ऐसा छात्र और छात्राओं से आपको सुनने को मिल जाएगा |


उन्होंने अपने यूट्यूब चैनल का प्रमोशन कभी नहीं किया | इनकी लोकप्रियता व साधारण की वजह से लोग इनसे जुड़ना चाहते है | यह किसी भी विषय को बड़ी आसानी से समझाते है: | अत: इनके यूट्यूब चैनल में आज 7.17 मिलियन के आसपास सब्सक्राइबर है यह इनकी लोकप्रियता को दर्शाता है |



इनकी कोचिंग के द्वारा प्राप्त शिक्षा के बदौलत छात्र और छात्रा विभिन्न उच्च अधिकारी के पदों पर विद्वान हैं | और इन्हें अपना मार्गदर्शन के रूप में हमेशा से देखते हुए आए हैं | कई छात्र-छात्राएं सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए इन्हें विभिन्न प्रकार की बधाइयां देते रहते हैं |


एक इंटरव्यू के दौरान डॉक्टर विकास दिव्यकीर्ति ने बताया कि जब यह अपनी IAS पद को छोड़ने की बात घरवालों को बताई तब रिश्तेदार सगे संबंधी उन्हें ऐसा करने से मना करने लगे | वे कहते हैं कि वह 20 महीनों तक बेरोजगार रहें अतः इन 20 महीनों में ही उनका दुनिया देखने का नजरिया बदल गया |


Dr Vikas Divyakirti Biography In Hindi के इस लेख मे डॉक्टर विकास दिव्यकीर्ति से जुड़े मुख्य पहलू को उजागर करने का प्रयास किया गया है आसा करते है कि यह जानकारी आपको पसंद आई हो | यदि आपके पास इस लेख से संबन्धित कोई सवाल है तो आप comment box के जरिये पूछ सकते है |


इन्हे भी पढे ……


पायल धरे उर्फ पायल गेमिंग का जीवन परिचय | Payal Dhare aka Payal Gaming Biography in Hindi


डॉ विकास दिव्यकीर्ति कौन है ?

एक पूर्व IAS अधिकारी ,एक अध्यापक और एक अछे इंसान जो भारत समाज को शिक्षा देने का कार्य कर रहे है |

डॉ विकास दिव्यकीर्ति का जन्म कब हुआ ?

डॉ विकास दिव्यकीर्ति का जन्म 26 दिसंबर दिन रविवार 1976 ईस्वी मे भारत के हरियाणा जिले में हुआ था |

डॉ विकास दिव्यकीर्ति के पास कितनी डिग्री { कितना पढे } है ?

डॉ विकास दिव्यकीर्ति के पास स्नातक ,परास्नातक ,phd,low ,mfill,हिन्दी व अँग्रेजी का विशेष अध्यन, मास कम्युनिकेशन और सोशलॉजी जैसी मास्टर डिग्री को प्राप्त किया |

डॉ विकास दिव्यकीर्ति की एक साल की इन्कम कितनी है ?

डॉ विकास दिव्यकीर्ति के पास 1.5 करोड़ एक साल मे कमा लेते है जोकि विभिन्न प्रकार के स्रोतो से आती है | लेख पर जाए

डॉ विकास दिव्यकीर्ति माता और पिता का नाम क्या है ?

डॉ विकास दिव्यकीर्ति के माता और पिता दोनों दिल्ली विश्वविष्यलय के प्रोफेसूर रह है उनके माता और पिता का नाम ज्ञात नही है जानकारी मिलते जोड़ दी जाएगी |

डॉ विकास दिव्यकीर्ति की पत्नी क्या नाम है ?

डॉ विकास दिव्यकीर्ति की पत्नी का नाम तरुणा वर्मा है |

डॉ विकास दिव्यकीर्ति के कितने बच्चे है उनका क्या नाम है ?

डॉ विकास दिव्यकीर्ति का एक लड़का है उसका नाम सात्विक दिव्यकीर्ति है

sahil shah

my name is sahil shah i am website disigner and blogger

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post